निजी स्कूलों के अध्यापकों का दर्द - एक नजर  Ranjana Jaiswal द्वारा मानवीय विज्ञान में हिंदी पीडीएफ

निजी स्कूलों के अध्यापकों का दर्द - एक नजर 

Ranjana Jaiswal मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी मानवीय विज्ञान

वर्तमान समाज में यदि कोई सबसे दयनीय प्राणी है तो वह है अध्यापक |और अगर वह किसी निजी स्कूल का हुआ तो और भी |वह इतना दबाव झेलता है कि क्या कहें ?एक तो स्कूल प्रबंधन का दबाव ,दूसरे ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प

-->