वेश्या का भाई - भाग(१३) Saroj Verma द्वारा क्लासिक कहानियां में हिंदी पीडीएफ

वेश्या का भाई - भाग(१३)

Saroj Verma मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी क्लासिक कहानियां

कोठे के बाहर मंगल ,रामजस का इन्तज़ार ही कर रहा था,जब रामजस मंगल के पास पहुँचा तो मंगल ने फ़ौरन रामजस से पूछा.... क्या कहती थी कुशमा? कहती थी कि मंगल भइया से कहना कि मेरे लिए अपनी जान ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प

-->