दूरी न रहे कोई ( पार्ट 3 ) किशनलाल शर्मा द्वारा रोमांचक कहानियाँ में हिंदी पीडीएफ

दूरी न रहे कोई ( पार्ट 3 )

किशनलाल शर्मा मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी रोमांचक कहानियाँ

"बोलो।""चाय पी लो।""तुम पी लो"राजन सोते हुए बोला"मैने तुम्हारे लिए भी बनाई है"और राजन को उठाना पड़ा।राजन चाय पीकर फिर सो गया था।इला चाय पीकर कुछ देर बैठी रही।फिर वह बाथरूम में चली गई।कपडे तो वह लाई नही थी।राजन ...और पढ़े

अन्य रसप्रद विकल्प