घर का डर - ३ suraj sharma द्वारा डरावनी कहानी में हिंदी पीडीएफ

घर का डर - ३

suraj sharma मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी डरावनी कहानी

"क्या बकवास करते हो ? मैने ये कब कहा तुमसे ..? रसोइया खून जमा देने वाली हँसी के साथ एक अलग ही आवाज़ में बोला, "चुपचाप घर पर खाना देकर आजायेगा, वरना आपके पिताजी भी सरपंच थे गांव के ...और पढ़े

अन्य रसप्रद विकल्प