कोरोना से सामना - 4 किशनलाल शर्मा द्वारा जीवनी में हिंदी पीडीएफ

कोरोना से सामना - 4

किशनलाल शर्मा मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी जीवनी

मैने विवेक को फोन लगाया।मेरी बात सुनकर वह बोला"अस्पताल आ जाओ।डॉक्टर चुग से मिल लो।वह दवा लिख देंगे।"मैने अपने ऑटो वाले से दस बजे रेलवे अस्पताल चलने के लिए बोल दिया।हम दस बजे तक तैयार हो गए।पता किया।ऑटो वाला ...और पढ़े

अन्य रसप्रद विकल्प