स्वीकृति - 3 GAYATRI THAKUR द्वारा सामाजिक कहानियां में हिंदी पीडीएफ

स्वीकृति - 3

GAYATRI THAKUR द्वारा हिंदी सामाजिक कहानियां

ताराचंद अपने घर लौट आते हैं.घर आने पर अपनी पत्नी को रोता हुआ देख कर उनका क्रोध बढ़ जाता है. तभी ताराचंद की पत्नी उषा सिसकते हुए उनसे पूछती है, "सुष्मिता का कुछ पता.. च... ल.....". लेकिन डर में ...और पढ़े

अन्य रसप्रद विकल्प