गिद्ध भोज padma sharma द्वारा हास्य कथाएं में हिंदी पीडीएफ

गिद्ध भोज

padma sharma द्वारा हिंदी हास्य कथाएं

गिद्ध भोज गोविंद ने अपने पास लगी कनात के बाहर झांका तो उसे मेले की तरह टूट पड़ती खूब भीड़ दिखी। सजे धजे शामियाने, रंगबिरंगी झिलमिलाती रोशनी और चहल-पहल देखकर ऐसा जान पड़ता था कि-कोई मेला लगा है। विवाह ...और पढ़े

अन्य रसप्रद विकल्प