तुम ना जाने किस जहां में खो गए..... - 6 - हमारा मिलना Medha Jha द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

तुम ना जाने किस जहां में खो गए..... - 6 - हमारा मिलना

Medha Jha द्वारा हिंदी प्रेम कथाएँ

'कोजी स्वीट्स कॉर्नर ' हर्ष खड़ा था अपने किसी परिचित के साथ। मैं और संयोगिता भी पहुंचे। सामने आया वो अजनबियों वाली मुस्कुराहट के साथ और इधर प्रेम में आकंठ डूबी मैं। आमने - सामने हम दोनों थे पर ...और पढ़े