बहुत दूर गुलमोहर- शोभा रस्तोगी राजीव तनेजा द्वारा पुस्तक समीक्षाएं में हिंदी पीडीएफ

बहुत दूर गुलमोहर- शोभा रस्तोगी

राजीव तनेजा मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी पुस्तक समीक्षाएं

जब कभी भी हम अपने समकालीन कथाकारों के बारे में सोचते हैं तो हमारे ज़हन में बिना किसी दुविधा के एक नाम शोभा रस्तोगी जी का भी आता है जो आज की तारीख में किसी परिचय का मोहताज नहीं ...और पढ़े