मधुरिमा - भाग (१) Saroj Verma द्वारा डरावनी कहानी में हिंदी पीडीएफ

मधुरिमा - भाग (१)

Saroj Verma द्वारा हिंदी डरावनी कहानी

चल राजू,जल्दी से खाना खाकर तैयार हो जा,रात को दस बजे हमारी ट्रेन है, मां ने मुझसे कहा____ मैंने कहा ठीक है मां और मैंने अपने कंचे,चंदा-पवआ खेलने वाली कौड़ी और अपनी गेंद मां को देते हुए कहा ...और पढ़े