सत्या - 22 KAMAL KANT LAL द्वारा उपन्यास प्रकरण में हिंदी पीडीएफ

सत्या - 22

KAMAL KANT LAL द्वारा हिंदी उपन्यास प्रकरण

सत्या 22 बरामदे की खटिया पर चादर ओढ़ कर बैठा शंकर अपने नाख़ून कुतर रहा था. औरतों का जमघट लगा था. कोई जमीन पर बैठी थी तो कई खड़ी थीं. सत्या उनके बीच आते ही बोला, “और मीरा देवी ...और पढ़े