ख़्वाब....जो बता न सके Satender_tiwari_brokenwordS द्वारा लघुकथा में हिंदी पीडीएफ

ख़्वाब....जो बता न सके

Satender_tiwari_brokenwordS मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी लघुकथा

नैना की नौकरी विदेश में लग गयी थी। घर वाले खुश तो थे लेकिन वही बात है ना कि लड़की है कैसे रह पाएगी ? वही समाज के चार ताने और वो चार लोग, न जाने कौन ??लेकिन फिर ...और पढ़े