आखर चौरासी - 13 Kamal द्वारा सामाजिक कहानियां में हिंदी पीडीएफ

आखर चौरासी - 13

Kamal Verified icon द्वारा हिंदी सामाजिक कहानियां

हॉस्टल में लड़कों के पढ़ने का समय अलग-अलग था। कुछ लड़के देर रात तक जगते, तो कुछ भोर में उठ कर पढ़ते। गुरनाम देर रात तक जग कर पढ़ाई करने वालों में था, इसलिए अगली सुबह वह देर तक सोता ...और पढ़े