बड़ी बाई साब - 1 vandana A dubey द्वारा उपन्यास प्रकरण में हिंदी पीडीएफ

बड़ी बाई साब - 1

vandana A dubey Verified icon द्वारा हिंदी उपन्यास प्रकरण

“ ॐ सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके शरण्ये त्रयम्बके गौरी नारायणी नमोस्तुते !!.......नीचे मंडप में पंडित जी कलश स्थापना कर रहे थे. खिड़की से सिर टेके खड़ी गौरी चुपचाप सारे काम होते देख रही है. छोटी से छोटी और बड़ी ...और पढ़े