शेरू Saadat Hasan Manto द्वारा लघुकथा में हिंदी पीडीएफ

शेरू

Saadat Hasan Manto मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी लघुकथा

चीड़ और देवदार के ना-हमवार तख़्तों का बना हुआ एक छोटा सा मकान था जिसे चोबी झोंपड़ा कहना बजा है। दो मंज़िलें थीं। नीचे भटियार ख़ाना था जहां खाना पकाया और खाया जाता था। और बालाई मंज़िल मुसाफ़िरों की ...और पढ़े