तीन बेचारे Pushp Saini द्वारा हास्य कथाएं में हिंदी पीडीएफ

तीन बेचारे

Pushp Saini द्वारा हिंदी हास्य कथाएं

लघुकथा ( तीन बेचारे ✍?)~~~~~~~~~~~~~~~"झील किनारे बैठ के सोचू क्यों बचपन तू दूर गया""अरे यार ! हमने झील किनारे मिलने का कार्यक्रम इसलिए नहीं बनाया था कि तुम "पुष्प सैनी" की यह कविता गुनगुनाओ" --- सुरेश ने उखड़ते हुए ...और पढ़े