दाग... Sarvesh Saxena द्वारा सामाजिक कहानियां में हिंदी पीडीएफ

दाग...

Sarvesh Saxena मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी सामाजिक कहानियां

"मैं नहीं जाऊंगी, बोल दिया ना, फिर क्यों बार-बार तुम लोग मुझसे पूछते हो", कहकर गरिमा आज फिर अपने कमरे में चली गई, उसकी सहेलियां चुपचाप घर से बाहर चली गई l मां भी अपने कमरे में गरिमा की ...और पढ़े