युद्ध वर्णन - चक्रव्यूह Himanshu Singh द्वारा पौराणिक कथा में हिंदी पीडीएफ

युद्ध वर्णन - चक्रव्यूह

Himanshu Singh द्वारा हिंदी पौराणिक कथा

चक्रव्यूह ============================= अभिमन्यु को देखा ऐसा लग रहा था मानो स्वयं कामदेव ने पुष्पबाण छोडकर कालदंड धारण कर लिया हो अथवा महादेव पिनाक धारण करके रथ पर बैठ चले आ रहे हों | समाने चतुर धनुर्वेद के मर्मज्ञ आचार्य ...और पढ़े