लालपान की बेगम Phanishwar Nath Renu द्वारा लघुकथा में हिंदी पीडीएफ

लालपान की बेगम

Phanishwar Nath Renu मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी लघुकथा

लालपान की बेगम फणीश्वरनाथ रेणु 'क्यों बिरजू की माँ, नाच देखने नहीं जाएगी क्या?' बिरजू की माँ शकरकंद उबाल कर बैठी मन-ही-मन कुढ़ रही थी अपने आँगन में। सात साल का लड़का बिरजू शकरकंद के बदले तमाचे खा कर ...और पढ़े