हिंदी लघुकथा कहानियाँ मुफ्त में पढ़ेंंऔर PDF डाउनलोड करें

ताश का आशियाना - भाग 15
द्वारा Rajshree

"मुझे बहुत भूख लगी है।" रागिनी अपने मुंह का पाउट बनाते हुए बोली।"घर जाकर खा लेना।" सिद्धार्थ ने बस एक रुखासा जवाब दिया, जो रागिणी को बिल्कुल पसंद नही ...

हीर रांझा की एक अधूरी प्रेम कहानी - 4
द्वारा Akash Gupta

"रांझा चलते-चलते चेनाब नदी के किनारे पहुँचा। दिन में तीसरे पहर जब सूरज पश्चिम दिशा में ढ़लने के लिए चल पड़ा, उस समय रांझा चेनाब नदी के किनारे खड़ा ...

घर की मुर्गी दाल बराबर
द्वारा Saroj Prajapati

बादल घिर आए थे और किसी भी समय तेज बारिश हो सकती थी।।आस्था ने जल्दी से अपना पर्स उठाया और बाहर निकलने लगी। तभी उसकी साथी टीचर्स बोलींआस्था थोड़ी ...

बिटिया
द्वारा अशोक असफल

जब पहली बार शास्त्री उसे बिठाने आए थे। किसी के माध्यम से बात हुई थी। और एक तिलकधारी, धोती-कुर्ते वाला भारी भरकम पंडित उनके सामने खड़ा था, परिचय देते ...

इंसान
द्वारा राज कुमार कांदु

शहर में अचानक दंगे भड़क उठे थे।दो गुटों में मारपीट के बाद हालात बेकाबू होते देख प्रशासन ने पूरे शहर में कर्फ्यू लगा दिया। समीर अपने बेटे रोहन के ...

खुबसूरत सफ़र कि शुरुआत
द्वारा Manisha Netwal

मां, मैं ऑफिस के लिए लेट हो रहा हूं, आइए आपको शर्मा अंकल के घर छोड़ देता हूं,,,,,, शौर्य अपने कमरे से बाहर निकलते हुए अपनी मां रेवती को ...

घास और बास
द्वारा Devendra Kumar Jaiswal

घास और बास ये कहानी एक ऐसे व्यक्ति की है जो एक Business man था लेकिन उसका business डूब गया और वो पूरी तरह hopeless हो गया। अपनी life ...

चोरनी
द्वारा Anita Singh

चोरनी शाम होने को थी ,चिड़िया अपने घोंसले की ओर उड़ चली थी , सूरज ढलने के साथ सारे आसमान को नारंगी बना गया था ।एक -एक पल के ...

एक अधूरी प्रेम कहानी - 5
द्वारा Akash Gupta

Hii guys am Akash gupta हमेशा की तरह फिर से एक अधूरी प्रेम कहानी लेकर आया हूं आसा करता हु की पसंद आएगीएक लड़का कई सालों से लाईलाज कैंसर ...

पद यात्रा भी जारी बहस भी जारी...
द्वारा Yashvant Kothari

ललित –लेख पद यात्रा भी जारी  बहस भी जारी...... यशवंत कोठारी  पैदल चले याने पद यात्रा करे ,अपने चरणों को धरती पर उतारे याने डाउन टू अर्थ याने धरती ...

अंतिम पौधा
द्वारा राज कुमार कांदु

चौबीस वर्षीया रजनी की अजीबोगरीब हरकतों से उसकी माँ कमला सकते में थी। बहुत सारे अच्छे रिश्तों को वह ठुकरा चुकी थी। उसे मर्दों और शादी के नाम से ...

इत्र वाली किशोरी
द्वारा Krishna Kaveri K.K.

इत्र वाली किशोरीचार्वी कबीलाई युवती थी , उम्र लगभग पंद्रह या सोलह वर्ष रही होगी। रंग , रूप से ज्यादा आकर्षक नहीं थी.. लेकिन उसकी आंखों में देखकर , ...

वरदान
द्वारा Devendra Kumar Jaiswal

अभी कुछ दिन पहले मैंने अपने धर्मग्रंथों का हवाला देते हुए बताया था कि पुरातन काल में राक्षसों के पास ऐसे ऐसे वरदान होते थे जो एक नजर में ...

मेल - अंतिम भाग
द्वारा Jitin Tyagi

उन दिनों वक़्त ही तेज़ी से भाग रहा था। या बच्चें ही जल्दी बड़े हो गए थे। ये मुझे बिल्कुल पता नहीं चला। शायद मैं खुद में ज्यादा ही ...

एक अधूरी प्रेम कहानी - 4
द्वारा Akash Gupta

प्यार में इतना दर्द किसी को ना मिलेआदित्य, पढ़ने में थोड़ा average और लड़कियों के मामले में थोडा कच्चा था उसकी मुलाकात 11th स्टैंडर्ड में ख़ुशी से हुई | ...

मोर।
द्वारा रामानुज दरिया

(मोर) चिलचिलाती धूप में आये ढूँढने छाँव जब देखा मोर को तो याद आ गया गाँवमैं तो बस यूं ही बालकनी में खड़ा था लेकिन अचानक से मेरी नजर ...

गेहूं की तोंद
द्वारा Devendra Kumar Jaiswal

‼️गेहूं की तोंद‼️गेंहू मूलतः भारत की फसल नहीं है अमेरिका के एक हृदय रोग विशेषज्ञ हैं डॉ विलियम डेविस...उन्होंने एक पुस्तक लिखी थी 2011 में जिसका नाम था "Wheat ...

एक अक्षर का खेल
द्वारा S Sinha

                                                      हास्य लघु ...

सुलोचना।
द्वारा डॉ. शैलजा श्रीवास्तव

अरे राजेश आज बहुत खुश लग रहे हो, राजेश को जल्दी-जल्दी स्कूल का काम ख़त्म करते देख उनके परम मित्र औऱ स्कूल में उनके साथी गोविन्द शर्मा जी बोले. ...

एक अधूरी प्रेम कहानी - 3
द्वारा Akash Gupta

Hii guys am Akash Guptaहमेशा की तरह फिर से एक कहानी लेकर आया हु आसा करता हु की पसंद आई होगीहम सब लोग जानते है की मौसम आते है ...

हनुमान जी का कर्ज़ा
द्वारा Devendra Kumar Jaiswal

*️ ... हनुमान जी का कर्ज़ा ... ️राम जी लंका पर विजय प्राप्त करके आए तो कुछ दिन पश्चात राम जी ने विभीषण, जामवंत, सुग्रीव और अंगद आदि को ...

राष्ट्रीय पुरस्कार
द्वारा Rohit Kumar Singh

उसे बडा गुस्सा आता,मन ही मन वो आग बबूला हो उठता था,जब उसकी पत्नी या जवान बच्चे उसे बेरोजगार कहते,,कभी सामने ,कभी पीठ पीछे किसी और के।अरे जीवन भर ...

एक अधूरी प्रेम कहानी - 2
द्वारा Akash Gupta

स्टोरीएक अमीर लड़का था. उसे एक गरीब किसान की लड़की से प्यार हो गया. लड़की सुंदर होने के साथ-साथ काफी समझदार थी. एक दिन जब लड़के ने उस लड़की ...

बेटी पढाओ...दहेज मिटाओ
द्वारा Devendra Kumar Jaiswal

मदन जी का लड़का है अशोक, एमएससी पास। नौकरी के लिए मदन जी निश्चिन्त थे, कहीं न कहीं तो जुगाड़ लग ही जायेगी। अब लड़के का बियाह कर देना ...

स्कर्ट
द्वारा Reshu Sachan

दिसम्बर का महीना उसपर से दिल्ली की कड़कड़ाती ठंड और  सुबह के छः बजे अचानक फ़ोन की घंटी बजे तो मिहित ही क्या किसी का भी मूड ख़राब हो ...

बाबु-राही
द्वारा JUGAL KISHORE SHARMA

बाबु-राहीमंजिल की तलाशसन् 1970 की बात, माइग्रेशन आम बात थी,पॉच-दस जमात पढा-क नहीं पढा, जानाही पड़ता परदेश रोजगार की तलाश में ।मिटटी-आबो-हवा की तजवीज का फला है,या जीवन ओ ...

सेवा का फल मीठा होता है
द्वारा Devendra Kumar Jaiswal

कल बाज़ार में फल खरीदने गया,तो देखा कि एक फल की रेहड़ी की छत से एक छोटा सा बोर्ड लटक रहा था,उस पर मोटे अक्षरों से लिखा हुआ था…“घर ...

अनसुलझा प्रश्न (भाग 21)
द्वारा किशनलाल शर्मा

65--त्रासदीमैं अपने लेखक मित्र से फोन पर बात कर रहा था।बातो ही बातो में वह बोले,"जिस पत्रिक में मेरी रचना छपती है,उसे फाड़कर फ़ाइल में लगा लेता हूं।और पत्रिका ...

द हूडि बॉय
द्वारा Krishna Kaveri K.K.

द हूडि बॉयरोज की तरह उस रात भी मैं अपने कोचिंग से घर वापस जा रही थी। वैसे तो उस गली में अंधेरा और सन्नाटा रहता ही है.. लेकिन ...

हमसफ़र : हमदर्द
द्वारा Reshu Sachan

वो रात कुछ यूँही सोते जागते गुजरी थी, आकर्ष और महक की। आकर्ष को दोपहर की फ़्लाइट से दिल्ली जाना था , जहां वह एक मल्टीनैशनल कम्पनी में नौकरी ...

परिवर्तन ही संसार का नियम है
द्वारा Jas lodariya

जीवन के संग्राम की महत्वपूर्ण सीढ़ी है परिवर्तन... दोस्तों इस जीवन में वही आगे बढ़ते हैं जो परिवर्तन की प्रक्रिया से भयभीत नहीं होते। वे भली भाँति जानते हैं ...

नियति
द्वारा Asha Parashar

अचानक पंडाल का शोर थम गया और धीमी-धीमी खुसुर-पुसुर होने लगी, ”बड़ी मां आ गई, बड़ी मां आ गई।“ श्रोताओं से काफी ऊँचाई पर सुसज्जित मंच पर सफेद धोती ...