साहित्यकार एवं गीतकार, समाजोत्थान हेतु चिंतन एवं पारिवारिक समस्याओं के निवारण हेतु सक्रिय पहल कर अनेक परिवारों की समस्याओं का सफल हल, सामाजिक एवं मानवीय संबंधों पर लेखन, ’ज्ञान प्रसार संस्थान’ की अध्यक्ष एवं उसके तत्वावधान में निर्बल वर्ग के बच्चों हेतु नि:शुल्क विद्यालय एवं पुस्तकालय का संचालन एवं शिक्षण कार्य।