मेहनत करो सफलता निष्चित है| Harshit Pandey | Bodybuilding Motivation | Josh Talks Hindi

हिंदी   |   15m 53s

अगर आपके पास सिर्फ ३५ रुपए हो, तो आप क्या कर सकते हैं ? क्या आप इस अमानत से सफलता के सफर की शुरुआत कर सकते हैं ? हर कोई कामयाब होना चाहता है| पर हर कामयाबी के पीछे कड़ी मेहनत और लगन के कुछ किस्से अवश्य होते हैं| मेहनत का फल एक दिन में नहीं मिलता, उसके लिए परिश्रम के साथ धैर्य से काम करना होता है| आज की यह जोश टॉक एक ऐसी ही जज़्बा और धैर्य की कहानी बयां कर रही है | दिल्ली के रहने वाले, 20 वर्षीय हर्षित पांडे आज एक मशहूर, जाने-माने बॉडीबिल्डर है | हर्षित पांडे Mr. India Bodybuilding, Iron Man of India, इत्याद जैसे जाने माने खिताबों से पुरस्करित है | हर्षित ने अपने जीवन में काफी दिक्कतों का सामना किया लेकिन कभी हिम्मत नहीं छोड़ी| सदैव अपने लक्ष्य(aim) पर ध्यान देते रहे और चुनौतिओं का जमकर सामना किया| हर्षित अपने कॉलेज में काफी वीक थे उनके पास जिम जाने के भी पैसे नहीं थे उसकी बजाए उन्हें काम करना पड़ता था और जिसके कारण उनका रुझान फिटनेस(fitness) की तरफ और बढ़ा और उन्होंने फिटनेस(fitness) वीडियोस देखने स्टार्ट किये और फिटनेस(fitness) वर्कआउट(workout) करने शुरू किये| परिवार की आर्थिक अवस्था अच्छी न होने के कारण बहोत कठिनाईओ का सामना करना पड़ा | हर्षित ने कई जगह नौकरी करने की कोशिश की फिर अंत में उन्हें आई टी सी मौर्य (ITC Maurya) में फिटनेस(fitness) बॉडीबिल्डिंग ट्रेनर(bodybuilding trainer) की नौकरी मिली| जहां उनकी मुलाकात(Indian Cricket Team Captian) भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) से हुई, और उन्होंने हर्षित को बॉडीबिल्डर, और बॉडीबिल्डिंग (bodybuilding) के लिए प्रेरित(inspire) किया और हर्षित की 2 लाख रूपये से सहायता की | हर्षित के बॉडीबिल्डिंग के प्रेरणा स्तोत्र Sangram Chougule है | हर्षित ने उनकी ज़िन्दगी, जीवनशैली, वर्कआउट टिप्स, को फॉलो किया और उनको अपना सबसे बड़ा आइडल माना | हर्षित की इस कहानी से सभी को म्हणत(hard work) और लगन की प्रेरणा(inspiration) मिलती है|

×
Vishesh Images