चंदा और टोपी Learn Hindi - Story for Children and Adults

हिंदी   |   02m 37s

चंदा और टोपी प्रस्तुतकर्ता नोनी हम सब गाँव का मेला देखने गए। पापा ने चिंटू को रंगीन चश्मा दिलवाया। माँ ने मेरे लिए एक चमकदार नीली टोपी खरीदी। छोटी गुड़िया को मिली मीठी कैंडी। घर लौटते समय, बड़े ज़ोर की आंधी आई। जिससे मेरी टोपी उड़ गई। मेरी टोपी जा फँसी थी पुराने पीपल की एक डाल पर। मैं बहुत रोया। रात का खाना भी नहीं खाया मैंने। उसी रात थोड़ी देर बाद आसमान में चंदा मामा आ गए। उन्होंने पीपल के पेड़ पर फँसी मेरी टोपी देखी, फिर चंदा मामा ने मेरी टोपी पहन ली। वे धीरे से मुस्कुराये। उनके साथ मैं भी मुस्कुराया। अगले दिन स्कूल से लौटते ही, माँ ने मुझे एक चमकदार लाल टोपी दी। उन्होंने कहा,“यह चंदा मामा ने भेजी है।” उस रात, चंदा मामा और मैंने अपनी-अपनी टोपियाँ पहनीं और एक दूसरे पर मुस्कुराये। हम खुश थे। आपको लगता है कि सूरज चाचू को भी लाल टोपी की ज़रूरत है? Story: Noni Illustrations: Angie & Upesh Music: Jerry Silvester Vincent Animation: BookBox Translation: BookBox Narration: Sweta Sravankumar (BookBox)

×
Vishesh Images