Hey, I am on Matrubharti!

Dear Zindagi बाइट्स पर पोस्ट किया गया ગુજરાતી प्रेरक
14 घंटा पहले
Dear Zindagi बाइट्स पर पोस्ट किया गया ગુજરાતી प्रेरक
14 घंटा पहले
Dear Zindagi बाइट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
19 घंटा पहले

#आसमानी

ये बरसात का मौसम हर एक की जिस्म में अदा किया खुदा ने,
आसमानी रंगीन दुनिया में गम का सैलाब जलता किया खुदा ने।

ये चांद रात भर बारिश में भिगोया और उसके अश्कों की लकीर नहीं दिखाई खुदाने,
तन्हा सूरज भी सागर की बूंद को तरस गया, पर उसे जलन ही दी खुदाने।

DEAR ZINDAGI 🙏

और पढ़े
Dear Zindagi बाइट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
2 दिन पहले

#ज़िंदा

रोज रोज तुम्हारे नखरे उठाए जा रहा हूं,
जूठे प्यार को झेल झेल कर थक कर टूटा जा रहा हूं।

रंगीन सफ़र से जुड़े ख्वाब को जाले लगाए जा रहा हूं,
उलफत मन में बसे जज्बातों को ठोकर मारता जा रहा हूं।

वफा के चौराहे पर बैठ बेवफाई का सिलसिला जिए जा रहा हूं,
आंखो से निकलते अश्को को आइने में बताए जा रहा हूं।

जिंदा रहकर खुदगर्ज दर्द को जुठी कहानियां सुनाए जा रहा हूं,
ये तोहमियात लगी खुद के किरदार को हकीकत में वो नाम से हटाए जा रहा हूं।

DEAR ZINDAGI 😔

और पढ़े
Dear Zindagi बाइट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
2 दिन पहले

#ज़िंदा

दिल से जुड़े रिश्ते बनाता जाऊ ऐसा अंदाज ही सही ,
कहीं बातो बातो से फरेब ना कहलाऊं ये अंजाम ही सही।

कहीं सफ़र में धुंधला पन सा दिखाई दे ऐसा है सही,
जज्बातों में कहीं मन, चित, से गुमराह ना हो जाऊं वो ही सही।

अदा करते करते जख्म खुद को जिंदा बचाता जाऊ ये ही सही,
ये जिंदगी की नियति के दौर को आजमाया जाए तो वो ही सही।

DEAR ZINDAGI 🙏

और पढ़े
Dear Zindagi बाइट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
2 दिन पहले

#ज़िंदा

आपकी हसीन आंखो में समुंदर का किनारा नहीं मिल रहा,
कहीं प्यार के सफ़र में भटकता तो नहीं जा रहा,
पहले कहीं बारिश के मौसम आए जिंदगी के मोड़ में,
पर जिंदा होने का वजूद प्यासे सागर से जुलजता रहा।

DEAR ZINDAGI 🌹

और पढ़े
Dear Zindagi बाइट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
2 दिन पहले

#ज़िंदा
दरगाह पर नमाज पढ़ी जा रही है,
तेरे इश्क़ में गुनाह होने की माफी मांगी जा रही है,
मौला को एक खत भेज जिंदा रहने के गुज़ारिश की जा रही है,
तेरे साथ रह कर ताउम्र गुजरने वाली कहानी पूछी जा रही है।

DEAR ZINDAGI 💞

और पढ़े
Dear Zindagi बाइट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
2 दिन पहले

#ज़िंदा

जिंदा तो हूं नहीं बस एक आश छुपी है तेरी यादों से,
कहीं वो भी छीन ले खुदा ये शहर के गलियों के रास्तों से,
ये जुस्तजू है, चांद को अकेला देख बाते करता हूं अकेलेपन से,
यूं ही तेरे नाम को इश्क़ की महिफिल में किरदार जिंदगी का बनाए जा रहा हूं.......

DEAR ZINDAGI 🤗

और पढ़े
Dear Zindagi बाइट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
3 दिन पहले

#वास्तविक

ए दिल से जुड़ी ख्वाहिश की बड़ी लम्बी कहानी है,
दूर बैठे बैठे दूरियां को नजदीकियों की रवानी है।

साथ हो फिर भी महसूस नई हुए इस दिल के जज़्बात है,
वास्तव रूप में दर्द के सहारे मुझमें तेरी यादों की निशानी है।

DEAR ZINDAGI 🤗

और पढ़े
Dear Zindagi बाइट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
3 दिन पहले

#वास्तविक

ये ख्वाब, जज्बात , लम्हे, लब्ज़, ए सब जुठी आजमाइश है शाहब,
अगर वो मेरे दिल को समझ पाए तो खुदा की लिखावट का इशारा हो सकता है।

वो जान जान बनाए हुए है, जूठे अल्फ़ाज़ से दिल को जुठी सदाये दे रहे है,
वास्तव में वो कहीं नादानी में अंजान शहर की गली के सफ़र में जुड़ें जा रहे है।

DEAR ZINDAGI 💞

और पढ़े