Hey, I am on Matrubharti!

Sushma Gupta कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
1 सप्ताह पहले

नज़र को नज़र से मिला कर चले थे
हम को हम से ही चुरा कर चले थे
शिकारी बनकर आये थे महफ़िल में
शिकार वो खुद ही बन कर चले थे
#शिकार

और पढ़े
Sushma Gupta कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी कविता
1 सप्ताह पहले

कोई सुनहरा सा दृश्य मेरी आँखों में
आ जाता हैं कई बार
जब ख्याल तुम्हारा मेरी आँखों में यू ही
आ जाता हैं कई बार
बंद करके पलके छिपा लेती हूँ ख्वाब सा
आ जाता हैं कई बार



सुषमा

#दृश्य

और पढ़े
Sushma Gupta कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी प्रेरक
2 सप्ताह पहले

मन का विश्वास ही तो हमें
मंज़िल तक ले जाता हैं
खो जाए कहीं जो रास्ते
विश्वास उन्हें ले आता हैं

कदम कदम पर मुश्किलें
जब कोई ले आता हैं
विश्वास ही हमे अपने
इरादों पर टिका जाता हैं


सुषमा




#विश्वास

और पढ़े
Sushma Gupta कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी कविता
2 सप्ताह पहले

जीवन का दूसरा नाम संघर्ष हैं,
जो संघर्ष में जीत गया
वो ही जीवन जी जाता हैं ।
जो हार गया इस दुनिया में,
वो अधूरा रह जाता हैं ।

सुषमा

#संघर्ष

और पढ़े
Sushma Gupta कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
3 सप्ताह पहले

छिपा के सारी दुनिया से तुम्हारे एहसास रखे हैं
तुम से ही तुम्हारे ख़यालात यू दबा कर रखे हैं
अब क्या कहें तुमसे हमने बातों की खुमारी में
कुछ राज गहरे से अपने गुप्त बना कर रखे हैं



सुषमा


#गुप्त

और पढ़े
Sushma Gupta कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी कविता
4 सप्ताह पहले

तुम से श्रेष्ठ नहीं मैं कभी होना चाहती
पर तुम तक पहुंचने की कोशिश है मेरी
तुम से कुछ नहीं मैं कभी पाना चाहती
पर तुम को पाना ही सदा कोशिश है मेरी
तुम्हारे साथ नहीं मैं कभी चलना चाहती
पर तुम्हारे पीछे चलने की कोशिश है मेरी



सुषमा गुप्ता


#श्रेष्ठ

और पढ़े

प्रचलित कुछ रिश्ते अप्रचलित हो जाते हैं
वक्त के साथ-साथ कुछ लम्हे बदल जाते हैं


#अप्रचलित

सुषमा गुप्ता

और पढ़े
Sushma Gupta कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
1 महीना पहले

क्या खबर ले उनकी जो बेखबर हो गये
खता कर के खुद ही जो खफा हो गये
अंधेरे में रोशनी सी बनकर आये थे जो
वो खुद ही हमारे लिये खामोश हो गए

सुषमा गुप्ता

#बेख़बर

और पढ़े

दिल से भोले लोगों का अजब सा हाल है,
नहीं समझते क्या इस दुनियां की चाल हैं।
अपना मान कर सब पर भरोसा करते है,
जालिम दुनिया में भोले का बुरा हाल है।


सुषमा गुप्ता

#भोळे

और पढ़े
Sushma Gupta कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी कविता
2 महीना पहले

मेरे हर पल पे कर के क़ब्ज़ा
दूर खड़े मुस्काते है
हम भी अपनी ज़िद पे उनकी राह तकाते है

सुषमा गुप्ता