कहीं वो आ के मिटा दें न इंतज़ार का लुत्फ़, कहीं क़ुबूल न हो जाए इल्तिजा मेरी।

*गुरु नानक देव जी की 550 साल की लख लख बधाइयां आप सभी को और अाप के परिवार को*
*सतनाम श्री वाहेगुरु जी*
🙏🙏 SB🌹

epost thumb

✍🏻✍🏻 एक "लम्हा" जो गुज़र गया तेरी "सोहबत" में...!!
✍🏻✍🏻 उसी लम्हें की "रौशनी" में उम्र "गुज़र" जाएगी...!!
_*लौट आ ना तू मेरे दिल का करार बनकर,*_

_*रह गई है जिन्दगी सिर्फ तेरा इंतजार बनकर...!!!*_🌹💞

और पढ़े

✌🏼✌🏼✌🏼


*धन की परिभाषा*

🙏🏼जब कोई बेटा या बेटी ये कहे कि मेरे माँ बाप ही मेरे भगवान् है….

*ये “धन” है*

🙏🏼जब कोई माँ बाप अपने बच्चों के लिए ये कहे कि ये हमारे कलेजे की कोर हैं….

*ये “धन” है*

🙏🏼शादी के 20 साल बाद भी अगर पति पत्नी एक दूसरे से कहें ।
I Love you…

*ये “धन” है*

🙏🏼कोई सास अपनी बहु के लिए कहे कि ये मेरी बहु नहीं बेटी है और कोई बहु अपनी सास के लिए कहे कि ये मेरी सास नहीं मेरी माँ है……

*ये “धन” है*

🙏🏼जिस घर में बड़ो को मान और छोटो को प्यार भरी नज़रो से देखा जाता है……

*ये “धन” है*

🙏🏼जब कोई अतिथि कुछ दिन आपके घर रहने के पशचात् जाते समय दिल से कहे की आपका घर …घर नहीं मंदिर है….

*ये “धन” है*

आपको ऐसे *”परम धन”* की प्राप्ति हो।


👍🏼👍🏼👍🏼
❤SB

और पढ़े

*"कोई मुझ से पूछ बैठा,*
*'बदलना' किस को कहते हैं..?*
*सोच में पड़ गया हूँ मिसाल किस की दूँ..?*
*"मौसम" की या "अपनों" की"..!!!*❤SB

और पढ़े

*चिंता ने चिता से मुस्कुरा कर कहा..*

" *तू मुर्दे को जलाती है...मै जिन्दों को*

*जिंदगी में ऐसे लोग भी मिलते हैं…. जो वादे तो नहीं करते लेकिन निभा बहुत कुछ जाते है.,. अक्सर वही रिश्ते, लाजवाब होते हैं..जो एहसानों से नहीं, एहसासों से बने होते हैं..!*

और पढ़े

Wo Jo Har Baat Shayarana Karta Hai
Apni Shayari Se Mujhey Deewana Karta Hai

Yeh Meri Himmat Hai Ke Bach Jata Hun
Mere Dil Par Har Waar Qatlana Karta Hai

Uske Pyar Mein Itna Kho Chuka Hun
Mujhey Apni Hasti Se Begana Karta Hai. ❤SB

Bina Bataye Usne Na Jane Kyu Ye Duri Kardi
Bhichhad Ke Usne Mohabbat Hi Adhuri Kardi
Mere Mukaddar Me Gham Aaye To Kya Hua
Khuda Ne Uski Khwaish To Puri Kardi. ❤SB

दुर्योधन ने श्री कृष्ण की पूरी नारायणी सेना मांग ली थी।
और अर्जुन ने केवल श्री कृष्ण को मांगा था।
उस समय भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन की चुटकी (मजाक) लेते हुए
कहा:
"हार निश्चित हैं तेरी, हर दम रहेगा उदास ।
माखन दुर्योधन ले गया, केवल छाछ बची तेरे पास ।"
अर्जुन ने कहा :- हे प्रभु
"जीत निश्चित हैं मेरी, दास हो नहीं सकता उदास ।
माखन लेकर क्या करूँ, जब माखन चोर हैं मेरे पास...!!!!
" *जय श्री कृष्ण* "
🏵श्री कृष्ण जन्माष्टमीच्या हार्दिक शुभेच्छा🏵😊🙏🏻

और पढ़े

,,,,,✒
*वक्त गुजारने के लिए,*
*दोस्तों को नही रखा जाता साहब..*

*दोस्तों का साथ निभाने के लिए, वक्त रखा जाता है...*