नमस्कार! मात्र आप से जुड़ने  हेतु यह मेरा प्रयास है। मूलतः एक इंजीनियर के रूप में अनेक पुस्तक लेखन, लेख, अनुवाद, रेेडियो वार्ता का अवसर मिला। आजकल तकनीकी शिक्षा, उद्यमिता एवम् व्यक्तित्व विकास आदि में सलाहकार होने के साथ आम बोलचाल की भाषा में कुछ कहानियां बुन ही लेता हूं, जो मातृभारती के माध्यम से आप तक पहुंचती हैं । जनवरी 2020 में मुझे मातृभारती रीडर्स चॉइस अवार्ड मिला ।  आशा है आपका प्यार सतत मिलेगा क्योंकि छोड़ने के सैकड़ों कारण होने के बावजूद भी आप न छोड़ने का एक कारण तो ढूंढ ही लेंगे।

r k lal verified कोट्स पर पोस्ट किया गया English सुविचार
4 सप्ताह पहले

If you get upset after seeing the progress of others, then understand that you are still healthy but if you start jealous of them, then you have definitely become insulted ill. RK Lal

r k lal verified कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी सुविचार
4 सप्ताह पहले

अगर आप दूसरों की प्रगति देख कर व्याकुल हो जाते हैं तो समझिये कि अभी भी आप स्वस्थ  हैं पर यदि आप उनसे जलन करने लगे तो निश्चित ही आप बेइलाज़ बीमार हो गए है।
आर के लाल

-r k lal

और पढ़े
r k lal verified कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी सुविचार
1 महीना पहले

उदास रहने से क्या फायदा जब उससे किसी समस्या का समाधान नहीं हो सकता।
आर के लाल

-r k lal

r k lal verified कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी सुविचार
1 महीना पहले

खुश रहने के लिए गुरूर छोड़ कर गुरु को बनाए रहिए।

-r k lal

r k lal verified कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी सुविचार
1 महीना पहले

विचारों की अभिव्यक्ति

परिवार के सदस्यों की रुचि, अभिरुचि और सोचने -समझने का ढंग अलग अलग होता है । सभी में सामंजस्य के लिए उनमें स्वतंत्र विचारों और भावनाओं की अभिव्यक्ति जरूरी है।
आर. के. लाल

और पढ़े
r k lal verified कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी सुविचार
1 महीना पहले

दो विकल्प "क्या मैं कर सकता हूं?" अथवा  "मैं कर सकता हूं" आपके संपूर्ण जीवन को बदल सकते हैं ।
सही विकल्प चुनकर अपने कार्य एवं संबंधों की  विशिष्टता में अंतर महसूस किया जा सकता है।
आर के लाल

और पढ़े
r k lal verified कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी सुविचार
2 महीना पहले

*स्वतंत्रता में आनंद, दिव्यता और सौंदर्य का अहसास होता है तो किसी बंधन में  दुख, संताप, और कुरूपता का।"*

आर 0 के 0 लाल

और पढ़े
r k lal verified कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी प्रेरक
5 महीना पहले

नज़दीकियां

"आए दिन आप  और आपके भाई में कहासुनी होती रहती है, मगर आप हैं कि किसी न किसी बहाने से उनसे बात करते रहते हैं जबकि वे आपको अक्सर अपशब्द भी कह देते हैं । जब अलग हो गए हैं तो उनसे कोई संबंध ही क्यों रखते हैं"?  पत्नी ने अपने पति से पूछा।

उनके पति ने जवाब दिया, " इससे हमारे बीच नज़दीकियां तो बनी रहती हैं, भले ही खटास भरी हों। उस कटुता को तो कभी भी दूर किया जा सकता है परंतु आपस की दूरियां बढ़ जाय तो उसे खत्म करना आसान नहीं होता"।

आर 0 के 0 लाल

और पढ़े
r k lal verified कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी सुविचार
5 महीना पहले

जीवन में शांति, सौम्यता और मधुर संबंध ही परिपक्व व्यक्ति के लक्षण होते हैं ।
आर के लाल

r k lal verified कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी सुविचार
5 महीना पहले

जो काम सामने है वही सबसे उपयुक्त अवसर है इसलिए उस पर ही कंसंट्रेट करें।
आर के लाल