Hey, I am on Matrubharti!

उस महेफिल का हिस्सा बनकर,,

चहेरे पर हंसी रखना बहुत दर्दनाक होता हैं,,,

जहां अपने ही करीबी लोग पराए हो गए हो ।।

___નિર્મળા

और पढ़े

अब मैंने लिखना शुरू किया है,,,

क्यूंकि तुझे दिल से निकालने का वादा किया हैं ।।

___નિર્મળા

कितना दर्द होता हैं उस वक़्त,,
जब हमारा करीबी हमसे रिश्ता तोड़ने के लिए
चाल चलता हैं ।।

और हमें बेवकूफ बनाने के लिए "चाल" को एक "वजह" का नाम बताता हैं।।

___નિર્મળા

और पढ़े

जब से
समजदारी बढ़ी हैं

तब से
हर रिश्ते में
सिर्फ धोखे नजर आए हैं ।।

___નિર્મળા

अगर,
आप हमें तकलीफ दे कर खुश होते हैं..

तो हम भी बहुत खुश हैं खुद को तकलीफ दे कर ।।

___નિર્મળા

सुंदरता को कभी सच्ची महोब्बत नहीं मिलती,,

उसे सिर्फ धोखे ही मिलते हैं...
क्योंकि,,,

सुंदरता हर किसी की चाहत होती हैं
और...
हर किसी की चाहत सच्ची नहीं होती ।।

__નિર્મળા

और पढ़े

आज एक अर्थी को रास्ते से गुजरते हुए देखा,,,

वो जैसे केह रही थी
आज में यहां हूं कल तुम भी यहां ही होंगे,,,

एैसे ही बेजान जिस्म के साथ अकेले ।।

__નિર્મળા

और पढ़े

क्यों ढूंढ़ती हूं तुम्हें हर वक़्त वहां....??

जहां से तुम बहोत दूर चले गए हो ।।

__નિર્મળા

दिल से निकली हुई हर एक बात,,

हर एक दिल को जरूर लगती है ।।

__નિર્મળા

आज तक सिर्फ बेनाम थी,,

नाम बनाना तो अब से शुरू किया हैं ।।

__નિર્મળા