" ચિત્ર એ મૂંગી કવિતા છે અને કવિતા એ બોલતું ચિત્ર છે. " - જી. ઈ. લેસીંગ્ટન

इन आँखों मैं अब तो सिर्फ यादे रह गई,
ख्वाब अभी आँखों मैं थे और नींद अधूरी टूट गई।

इतनी महोब्बत थी हमारी मुस्कुराहट से,
की आपकी यादे इन्हें भी चुरा ले गई।

- परमार रोहिणी " राही "

और पढ़े

मेरी हर धड़कनको तेरे दिलकी पनाह मिल जाये,
मेरी हर साँसको तेरे नामकी खुशबू मिल जाये।

दुआओ मैं भी अगर माँगू कुछ रबसे तो बस इतना की
मेरी मौत की राहों को तेरी बाहो का सहारा मिल जाये।

-परमार रोहिणी "राही"

और पढ़े

सूना है साथ ना जी सके तो लोग मरने की दुआ करते है।
मगर
मुक्कमल हो वो महोब्बत ही क्या ....
हमने तो इतिहास देखा है जुदाई मैं तड़पते हुए।

- परमार रोहिणी " राही "

और पढ़े

दोस्ती मैं कभी शक मत करना यारो..
क्योंकि जब शक की दास्ताँ हद से आगे गुज़रने लगे तो...
दोस्ती नही रहती या दोस्त नही रहता।

और पढ़े

तेरे नाम सारी कायनात लिख दूँ,
मोत तेरी लेके, जिंदगी तेरे नाम लिख दूँ।

ए दोस्त तू तो मेरी जिंदगी है,
तेरे नाम अपना सारा जहाँ लिख दूँ।

- परमार रोहिणी " राही "

happy friendship day all friends 😊😊😊😊😊

और पढ़े