મોજ થી જીવો અને જીવવા દો . આપણો તો એકજ નિયમ ...

कल पडोस वाली आंन्टी घर आकर पुछती है।
बेटा तुम्हारे तो exam आने वाले हे तु पढ ने नई बेठी ?
ऐ बात सुन कर जो डाट जो मीली हे मा से के ना पुछो बात। 😢😢
तब तो ऐसा लगा था की ईस पडोसन का गला दबादु😡😡
पर अफसोस वेसा कुछ नही कर सकती 😞😞
लेकीन मे चुप बेठने वालो मे से थोडी नाथी बदला तो लेनाही था 🙅💪
पर करुतो करु क्या ?🤔🤔
फीर ऐक विचार आया की स्टौरी डाल कर बदला लेती हु साली पडोसन को सुनाती हु।🙅
बाद मे वो स्टोरी रखदी की।
“कुछ भी कर लेना लेकीन पडोसी के घर जाकर ऊनके बच्चो से ये मत पुछना की बेटा तुम्हारे कीतने मार्कस आऐ ?”
ऐ स्टौरी डालीतो सही लेकीन!😞😞
जो पडोसन के लीये रखाथा ऊसने तो देखी साथ मे दुसरी पडोसन ने भी देखलीया।
वो दुसरी पडोसन आ पहोची मेरे घर 🏠
वो आई तो ठीक है लेकीन कोई 👹भुतनी कयामत बनके आये वेसे आकर मेरी मा से लडने लगी ।
मेरे बारेमे की आपकी बेटी कीतनी बत्मीझ है।
ईतने गुस्से मे थी वो की ना पुछो बात पुरे ऐक घंटे मेरा घर महाभारत की युद्ध भुमी बन गईथी।😜😒
ऐक घंटे के बाद वो पडोसन गई ओर वो सोला मुज पे भडक ऊठा मा भी वो पडोसन की तरह मुजे डाटने लगी ओर मोबाइल भी छीन लीया।😭😭
“वो कहते हे ना स्टोरी रखो कीसी ओर के लीये , कोइ ओर समजा ता हे की मेरे लिए हे ओर कोपी करने वालो की तो कोई कमी नही। ”
अब तो यह बात ऊपर से भगवान आकर भी कहे ना की ये गलत है फीरभी ना मानु ।
अबसे तो प्रण लीयाहे की कभी भी कीसीसे बदला लेना हो या कुछ भी हो सीघे मु बोल देना चाहिए वरना
बीना बात को लेने के देने पड झायेगे😞😟😢

और पढ़े

#guruji 🙏

फुलो का झहान बना बेठी थी अपने जीवन को,
मगर इस झहा मे पथ्थर को पूजा जाता हैं,
ये तो में भुल ही गइ थी।
nandita

बहोत खुब पहचाना उसने मेरे प्यार को,
पुछता है याद आती है मेरी?

बस अब कुछ कहेने को
दील नही करता,
तभी तो मौन को अपनाकर अकडु बने फिरते हैं।
nandita

आपके ही दीमाग को इस्तमाल करके खेलने वाले खिलाडी कई मील जायेगे हमे,
लेकीन जीस दीन अपने ही
दीमाग को जान कर जीस दीन खेलना सीख गऐ ऊस
दीन से हर कोइ खेल आसान होजाएगा हम सब के लिए। nandita pandya

और पढ़े

वाकैइ बडे पथ्थर दील होते हे “शायर”,
वरना अपनी आह पे वाह सुनना मझाक नही हे।

बडी बडी मुस्कीलो से खुदही लड जाया करती है।
जो प्यार से गले लगालो तो लडकीया रो देया करती है।