Hey, I am on Matrubharti!

Ina Shah कोट्स पर पोस्ट किया गया ગુજરાતી शायरी
11 महीना पहले

"ના ગડગડાટ,
ના ચમકારા..
વળી બહુ જોખી જોખી ને વરસે છે...

શંકાસ્પદ છે
આગમન તારું,
કેમ આમ માણસની જેમ વર્તે છે..?"

અજ્ઞાત

और पढ़े
Ina Shah कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
11 महीना पहले

गर यकीन न हो.. तो बिछड़ कर देख लो . ..
तुम मिलोगे सबसे, मगर हमारी ही तलाश में ...

Ina Shah कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
11 महीना पहले

वो
तब भी थी,
अब भी है
और हमेशा रहेगी...
ये रूहानी मुहब्बत है,
कोई तालीम नहीं जो पूरी हो जाये...

-अज्ञात

Ina Shah कोट्स पर पोस्ट किया गया ગુજરાતી शायरी
11 महीना पहले

શ્વાસને શંકા પડી કે હૃદય કેમ બળે છે...?


પછી ખબર પડી કે,

રક્તમાં થીજી ગયેલું તારું નામ ઓગળે છે!!!

Ina Shah कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
11 महीना पहले

ज़ब्त कहता है की ख़ामोशी में बसर हो जाए,
दर्द की ज़िद है के दुनिया को ख़बर हो जाए..

Ina Shah कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
11 महीना पहले

दर्द लेकर भी उफ्फ न करना दस्तूर है
चल ऐ इश्क, तेरी ये शर्त भी हमें मंजूर है...

Ina Shah कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
11 महीना पहले

आँखे बंद कर लो अपनी,
लोगो को आखों में धूल झोंक ने की महारत हांसिल हुई है।

Ina Shah कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
11 महीना पहले

ना जाने किस बात पर वो नाराज़ हैं हमसे,

ख्वाबों में भी मिलते हैं तो बात नही करते..

Ina Shah कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी शायरी
11 महीना पहले

कत्ल करके जाता तो ..
दुनिया की नजरों में आ जाता _
कातिल शातिर था ..
मोहब्बत करके छोड़ गया

Ina Shah कोट्स पर पोस्ट किया गया ગુજરાતી शायरी
11 महीना पहले

સખી,

તું, મને તારામાં વાવી દે
છોડ વાવે એ રીતે, પછી હું
તારામાં ઉગીશ
તારામાં વિસ્તરીશ
તારામાં મ્હોરીશ ને પછી
મારું સરનામું હશે

‘હું’
c/o
‘તું’

और पढ़े