कैप्टन धरणीधर पारीक (सेवानिवृत्त)आर्मी पिता- श्री राधेश्यामपारीक जन्म स्थान - मूण्डरू सीकर निवास स्थान- जयपुर राजस्थान,मेरी शिक्षा - संस्कृत साहित्य से व हिंदी साहित्य से शास्त्री शिक्षाशास्त्री, सामाजिक संस्था - गायत्री परिवार जयपुर । कवि - लेखक, मेरी पुस्तकें- सपनों के शुभ-अशुभ फल, सूपनखा, होलिका दहन, अप्सरा, महिला पुरूषों में टकराव क्यों ?, डोगी का प्रेम, ऐसा क्यों ? , जादुई मन, और आने वाली पुस्तकें - गायत्री व्रत कथा, मृत्यु के बाद का सच,

Captain Dharnidhar मातृभारती सत्यापित कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी सुविचार
1 दिन पहले

जिस घर को संवारने में पूरा परिवार लगा रहे , मेहमाननवाज़ी में पूरा परिवार लगा रहे तो उस घर के लोग अभी प्रगति ओर करने वाले है ।

-Captain Dharnidhar

और पढ़े
Captain Dharnidhar मातृभारती सत्यापित कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी प्रेरक
3 दिन पहले

Captain Dharnidhar लिखित कहानी "महिला पुरूषों मे टकराव क्यों ? - 66" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19938470/mahila-purusho-me-takraav-kyo-66

और पढ़े
Captain Dharnidhar मातृभारती सत्यापित कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी कहानी
3 दिन पहले

Captain Dharnidhar लिखित कहानी "महिला पुरूषों मे टकराव क्यों ? - 66" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19938470/mahila-purusho-me-takraav-kyo-66

और पढ़े
Captain Dharnidhar मातृभारती सत्यापित कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी कहानी
5 दिन पहले

वह मेरा प्रेम ही तो था , जो जीवनभर की कमाई तुम्हें दे दी ।

-Captain Dharnidhar

Captain Dharnidhar मातृभारती सत्यापित कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी कहानी
5 दिन पहले

Captain Dharnidhar लिखित कहानी "महिला पुरूषों मे टकराव क्यों ? - 65" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19938215/mahila-purusho-me-takraav-kyo-65

और पढ़े
Captain Dharnidhar मातृभारती सत्यापित कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी प्रेरक
2 सप्ताह पहले

Captain Dharnidhar लिखित कहानी "जादुई मन - 14 - सम्मोहन से चिकित्सा" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19937934/jaadui-mann-14

और पढ़े
Captain Dharnidhar मातृभारती सत्यापित कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी कहानी
2 सप्ताह पहले

Captain Dharnidhar लिखित कहानी "महिला पुरूषों मे टकराव क्यों ? - 64" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19938050/mahila-purusho-me-takraav-kyo-64

और पढ़े
Captain Dharnidhar मातृभारती सत्यापित कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी कविता
2 सप्ताह पहले

मन मैला अरू तन को धोये , फूल को चाहे कांटे बोये ।।

-Captain Dharnidhar

उपेक्षा और अपेक्षा करना दोनों ही दु:ख देने वाले हैं
किसी की उपेक्षा मत करो और न किसी से अपेक्षा रखो

-Captain Dharnidhar

और पढ़े
Captain Dharnidhar मातृभारती सत्यापित कोट्स पर पोस्ट किया गया हिंदी कहानी
2 सप्ताह पहले

Captain Dharnidhar लिखित कहानी "महिला पुरूषों मे टकराव क्यों ? - 63 - अभय केतकी का झगड़ा" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19937863/mahila-purusho-me-takraav-kyo-63

और पढ़े