Be Happy....choose your own Dreams......My Life My Choice......Follow to "KARMA".....i love philosophy......log in to the world....30th August.....

आज उन लोगों ने भी मुँह मोड़ लिया, जिसने हरदम साथ निभाने का वादा किया था ।

कुछ उलझनें अभी भी बाकी है ।
तेज रफ्तार में जिंदगी को आगे बढ़ाना बाकी है ।
तसवीर दिमाग में है, दिल में उतारना बाकी है ।

और पढ़े

प्यार कोई रिश्ते का नाम नहीं है, प्यार तो वो चीज़ है जिसमें भगवान दिखते है।

गुमनाम रिश्ते को एक नाम देना जरूरी है ।
कोरे कागज़ पे कुछ लिखना जरूरी है ।
तनहाइयाँ को जिंदा रखना जरूरी है ।
प्यार के अल्फाज़ को निभाना जरूरी है ।

और पढ़े

"लोग क्या सोचेगे" अगर ये भी हम सोचेगे तो लोग क्या सोचेगे ।