इश्क़ आख़िरी - 17 Harshali द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

इश्क़ आख़िरी - 17

अमृता अपने रूम में गई और नीचे आकर आकाश को कंबल ओढ़ा कर फिर से अपने रूम मैं तैयार होने के लिए चली गई ।




कुछ देर बाद आकाश की आंख खुली । शायद मैं काम करते करते ही सो गया , और ये कंबल ? ? आकाश ने उठते हुए कहा । ओ . . . तो अमृता यहां आई थी , और ये कंबल ! इस मैं से तो लेडीज परफ्यूम की खुशबू आ रही है , कुछ पल के लिए तो ऐसा लगा की अमृता मेरे बाहों में . . . उफ़ ये मेरे ख्वाब !! आकाश ने मुस्कुराते हुए अपने आप से ही कहा । और अपने रूम मैं जाकर तैयार होने लगा । कपड़े चेंज करने के बाद अमृता ने दरवाजा खोला और वो तैयार होने लगी । उसके हाथ में आई हुई चोट के कारण अमृता को बाल बनाने में प्रॉब्लम हो रही थी , अमृता के कमरे के बाहर खड़ा आकाश ये सब देख रहा था । अमृता मैं अंदर आ सकता हूं ? आकाश ने दरवाजा नॉक करते हुए अमृता से पूंछा । " हां आओ ना " , अमृता ने भी जवाब दिया । "तुम कब उठे ? मैने सोचा की पहले मैं रेडी हो जाऊ उसके बाद तुम्हे उठाऊंगी " अमृता ने आकाश से कहा । हां वो मेरी नींद गर्मी की वजह से खुल गई थी , मुझे ठंड में सोने की आदत है ना , आकाश ने कहा । पर हॉल में ऑलरेडी इतनी ठंड थी और तो और एसी भी ऑन था , इसलिए मैंने तुम्हे कंबल ओढ़ा दिया , सॉरी मुझे पता नही था, मेरी वजह से तुम्हारी नींद खराब हुई , अमृता ने आकाश को कहा । "अरे नही नही इट्स ओके कोई बात नहीं , तुम क्यों सॉरी बोल रही हो और वैसे भी ये अच्छी हैबिट नहीं है , ज्यादा ठंड में सोना अच्छा नही है ना , लेकिन ये आदत है की छुटने का नाम ही नहीं लेती " आकाश ने अमृता से कहा । एक काम करो अब तुम आई हो ना तुम मेरी मदत करदो ये आदत छुड़ाने में आकाश ने सोचते हुए अमृता से कहा । "अच्छा वो कैसे " , अमृता ने पूछा । "वो में तुम्हे बाद मैं बताऊंगा , में बाहर से देख रहा था , तुम्हे बाल बनाने में दिक्कत हो रही है ना ?" , आकाश ने पूंछा । हां वो हाथ में दर्द है इसलिए . . . अमृता ने कहा । "इफ यू डोंट माइंड, में हेल्प करू तुम्हारी ?" आकाश ने अमृता से पूंछा । "तुम क्या हेल्प करोगे मेरी ? " ,अमृता ने पूंछा । " में तुम्हे बाल बनाकर दे सकता हूं , और इस बार कोई गड़बड़ नही होगी पक्का , मुझे बाल बनाने सच में आते है आकाश ने कहा । ठीक है फिर , अमृता ने कहा । आकाश ने अमृता को आयने के सामने जो खुर्सी थी उस पर बिठाया और उसके बाल अपने हातों में लेकर कंगी से बाल बनाने लगा । आकाश की नजरे अमृता के बालों पर थी तो अमृता की नजरे आकाश पर से हटने का नाम ही नहीं ले रही थी । रुको मैं अभी आया कहकर आकाश अमृता के रूम में से चला जाता है । अरे वाह . . ओपन हेयर ब्रेड कितना अच्छा लग रहा है अमृता ने आयने मैं देखते हुए कहा । कहा था ना मैने की मुझे आते है बाल बनाना , आकाश ने कमरे मैं आते हुए अमृता से कहा । ये क्या ? अमृता ने पूछा । अरे दीदी के रूम में गया था , ये सब मेकअप और हेयरस्टाइल वाले चीजे उसके रूम में इतनी पड़ी हुए है ना की एक पूरा मेकअप शॉप बन सकता है , आकाश ने अमृता के बालों को कर्ल करते हुए अमृता से कहा ।

आकाश के इस बात पर अमृता हस दी। वैसे तुमने ये सब सिखा कहासे ? अमृता ने सवाल करते हुए कहा । बचपन की प्रैक्टिस है , दीदी पर एक एक एक्सपेरिमेंट करता था मैं, तो प्रैक्टिस करते करते परफेक्शन आ गया , अच्छा तो अब तुम रेडी हो ना ? चले ? आकाश ने अमृता से पूछा । हां चलते है , लेकिन उससे पहले हम कॉल करके बताते है ना सबको , की हम बनारस देखने जा रहे है वरना सब लोग चिंता करेंगे अमृता ने कहा । मैने सबको बता दिया है , डोंट वरी , अब चले ? आकाश ने कहा । हां चलो ।

आकाश ने कार निकाली । अमृता ने कार में बैठते हुए कहा ,"तुम्हारे पास बाइक नही है ?" "है ना लेकिन वो मानव लेके गया है , बाकी सब हम कार ही यूज करते है , क्यों तुम्हे बाइक से जाना है क्या ?" ,आकाश ने सॉफ्ट टोन मैं अमृता से पूछा । " नहीं वैसी बात नहीं है , तुम चलो , वैसे हम जा कहा रहे है ? " , अमृता ने आकाश से पूंछा । "हम बनारस का बाजार देखने जा रहे है उसके बात घाट देखेंगे फिर डिनर करके घर आएंगे ", आकाश ने गाड़ी स्टार्ट करते हुए अमृता से कहा । अभी भी गॉगल लगाया है ? किसी को इंप्रेस करने का इरादा है क्या ? अमृता ने आकाश से पूंछा । आकाश अमृता के इस बात पर बस हस दिया । रेडियो ऑन करू ? आकाश ने पूछा । हां करदो अमृता ने भी जवाब देते हुए कहा । रेडियो पर इंग्लिश गाना बजने लगा । अमृता ने गाना चेंज किया । अरे ये क्या क्यों चेंज किया गाना अच्छा तो था , आकाश ने कहा । नहीं मुझे इंग्लिश सोंग्स पसंद नही है । रेडियो पर अब ये गाना बजने लगा ।

दिल के डाली पे कलियां से खिलने लगी ।

जब निगाहे निगाहों से मिलने लगी ।

एक दिन इस तरह होश खो जाएंगे ।

पास आए तो मदहोश हो जाएंगे ।

मैने सोचा ना था ।

एक दिन जिंदगी इतनी होगी हसीन ।

झूमेगा आसमा गाएगी ये जमीन ।

मैने सोचा ना था ।




ये गाना सुनते हुए अमृता के चेहरे पर एक स्माइल आ जाती है । तुम्हे लव स्टोरीज के तरह लव सोंग्स भी पसंद है ?" आकाश ने अमृता से पूछा । हां पसंद है , यू नो वॉट मुझे ना एवरग्रीन सॉन्ग ज्यादा पसंद है अमृता ने कहा । अच्छा ऐसा क्यों ? आकाश ने भी सवाल करते हुए कहा । पुराने गानों में मीनिंग एंड फीलिंग दोनों होती है और वैसे भी ओल्ड इस गोल्ड अमृता ने कहा । हा वो तो है आकाश ने स्माइल करते हुए कहा । आगे कुछ देर बाद सिग्नल पर कार रुक जाती है , तभी एक कार जो की आकाश की कार के बिल्कुल साइड में थी , आकाश की नजर उस पर जाति है । ये कार , ये तो वही है जो हम घर से निकलते वक्त हमारे पीछे थी , क्या ये हमारा पीछा . . . लेकिन क्यों ?



रेट व् टिपण्णी करें

Rupa Soni

Rupa Soni 3 महीना पहले

Preeti G

Preeti G 3 महीना पहले