इश्क़ आख़िरी - 15 Harshali द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

इश्क़ आख़िरी - 15

अभी कुछ देर पहले मुझे अंडरेस्टीमेट कर रही थी ना की में खाना नहीं बना सकता अब देखो मैं तुम्हे खाना बनाके दिखाता हूं ।




तुम बस मुझे ये बताना की कौनसी चीज़ कहा रही है , आकाश ने अमृता को वहा खुर्सी पर बिठाते हुए कहा । बाय द वे बनाना क्या है ? आकाश ने पूछा । लो जनाब चले है मास्टरशेफ बनने और क्या बनाना है ये ही पता नहीं है , अमृता ने आकाश को ताना मारते हुए कहा । ठीक है ठीक है मारिए जितने ताने मारने है , बस ये खाना बन जाए एक बार फिर आपको पता चलेगा अमृता जी , आकाश ने ओवर कॉन्फिडेंट होते हुए कहा । हां वो तो पता चल ही जाएगा , लेकिन तुम खाना बनाओगे कैसे ? में बताती हूं की क्या क्या करना है वैसे वैसे तुम करते जाना अमृता ने उठते हुए कहा । नहीं तुम नहीं उठोगी , बैठी रहो , बैठी रहो वहा चुपचाप, खबरदार उठी तो , मैं खुद से खान बनाऊंगा इंटरनेट पर विडियो देख कर , तुम्हे सिर्फ देखने का काम करना है ! आकाश ने अमृता से कहा । किसको देखना है ? अमृता ने झट से सवाल किया । मुझे ! ! आकाश ने अमृता की आंखो मैं देखते हुए कहा । क्या ? अमृता ने फिर से पूछा , मेरा मतलब है तुम्हे मुझे देखना है की में खाना कैसे बना रहा हूं आकाश ने बात को घुमाते हुए कहा और खाना बनाने लगा । अमृता बस बिना पलके झपकाए आकाश को ही देखे जा रही थी । आकाश , मुझे मदत करने दोनो तुम्हारी , में बोर हो रही हूं यहां बैठे बैठे , अमृता ने आकाश से कहा । तुम क्या मदत करोगी मेरी ? तुम्हारे हाथ पर चोट लगी है ना , जाओ जाके आराम करो मैं यहा सब मैनेज कर लूंगा , आफ्टरऑल में मेरे बिजनेस को मैनेज करने में एक्सपर्ट हूं , तो मैनेज करने की क्वालिटी मुझ में बचपन से है , आकाश ने एटीट्यूड से कहा । अच्छा जी , लेकिन मैं तुम्हे एक बात बता दूं , बिजनेस मैनेज करना और किचन मैनेज करना इस मैं जमीन आसमान का फर्क होता है , आसान नही होता इतना , अमृता ने भी मुंह बनाते हुए कहा । जब तुम मेरे हाथ का बना खाना खाओगी ना तब तुम्हे पता चलेगा , अब जाओ तुम आराम करो , टीवी देखना है ? आकाश ने पूछा । हां चलेगा , अमृता ने जवाब दिया । चलो टीवी ऑन करके देता हूं बोलकर आकाश किचन मैं से हॉल में आया , अमृता को टीवी ऑन करके दिया और खुद किचन मैं जाकर काम करने लगा ।




कुछ देर बाद , आकाश ने सब खाना बनाया , आलू की सब्जी , डाल, चावल , डिजर्ट मैं खीर । हाश.... फाइनली सब कुछ बनाके हुआ कितना डिफिकल्ट होता है ये सब खाना एंड ऑल बनाना , मां कैसे बनाती होंगी ये सब ! आकाश ने अपने आप से ही कहा । और अपने और अमृता के लिए खाना परोसने लगा । आकाश ने बाहर आकर डाइनिंग टेबल पर खाना रख दिया । देखो मिशन सक्सेसफुल किया मैने, चलो लंच के लिए , आकाश ने अमृता की और बढ़ते हुए कहा । आकाश ने देखा की अमृता सोफे पर बैठ कर रो रही है । अरे तुम रो क्यों रही हो क्या हुआ ? तुम्हे घर की याद आ रही है क्या ? मैने कुछ कहा क्या गलती से तुम्हे ? आय एम सॉरी , चाहिए तो तुम मुझे एक थप्पड़ मार लो लेकिन रोना बंद करो आकाश एक ही सांस में इतना कुछ कह गया । अमृता ने अपने आसूं पोछते हुए कहा , देखो ना उस सीरियल में वो कपल्स वो बिछड़गए , इतने सालों का उनका रिलेशन यूं ऐसेहि खत्म कैसे हो सकता है यार, अमृता ने नम आवाज मैं कहा । ये सुनकर आकाश जोर जोर से हंसने लगा , क्या अमृता तुम भी वो सीरियल है हकीकत नही है , ड्रामा है वो बस, पर्सनली क्यों ले रही हो ? आकाश ने हंसते हुए कहा । सबसे पहले तो तुम हंसना बंद करो , वैसे भी सीरियल्स और फिल्मे कही न कही हमारे रियल लाइफ से ही इंस्पायर्ड होती है अमृता ने डाइनिंग टेबल की और जाते हुए आकाश से कहा । लेकिन यू नो वॉट , ये सब रियल मैं नहीं होता , ये प्यार मैं मरना मिटना , साथ में जीने मरने की कसमें , वो बिछड़ना , अपने पार्टनर के लिए सैक्रिफाइस करना ये सब बस फिल्मों में होता है असल जिंदगी इस से बहुत डिफरेंट होती है । असल जिंदगी में लोग बस पैसों से प्यार करते है और कुछ तो सिर्फ जिस्मों के भूखे होते है आकाश ने एकदम सीरियसली बोल डाला । नहीं ऐसा नही होता , सभी लोग एक जैसे नहीं होते ना ,कुछ लोग होते है जो प्यार मैं वादे निभाते है , सब लड़कियां पैसों की भूखी नही होती है, कुछ लड़कियों के लिए थोड़ा सा वक्त , रिस्पेक्ट और प्यार के दो शब्द ही काफ़ी होते है किसका साथ देने के लिए । और ठीक उसी तरह सभी लड़के जिस्मों के भूखे नहीं होते , कुछ लड़कों को तो बस उसका साथ ही चाहिए होता है । प्यार गलत नही होता आकाश हम जिससे प्यार करते है हो इंसान गलत होता है ,प्यार तो यूं ही बदनाम है , प्यार मैं इतनी ताकद होती है की. . . बोलते बोलते अमृता की नजर आकाश की और चली गई । क्या हुआ ऐसे क्यों देख रहे हो ? मैने कुछ गलत कहा क्या ? अमृता ने आकाश से पूंछा । नहीं नही, मतलब हा , आकाश ने कहा । एक्जेक्ट क्या हां या ना ? अमृता ने सवाल करते हुए कहा । आय मीन देखो तुमने अभी तक बाहर की दुनिया नही देखी है अमृता , तुम भोली हो बहुत , ये सब प्यार की कहानियां ये हमारी इमेजनरी दुनिया है जो हमने क्रिएट की है, ये लव स्टोरीज , सीरियल्स एंड मूवीज देख देख कर , असल जिंदगी मैं ये सब नहीं होता अमृता , , आकाश ने अमृता से कहा ।



रेट व् टिपण्णी करें

Rupa Soni

Rupa Soni 3 महीना पहले

Preeti G

Preeti G 3 महीना पहले