इश्क़ आख़िरी - 13 Harshali द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

इश्क़ आख़िरी - 13

अमृता अब नर्वस हो रही थी , अमृता पीछे दीवार से लग कर खड़ी हो गई , आकाश ने एक हाथ अमृता के सिर के नीचे रखा , और उसके आंकों में देखने लगा ।

पता नही क्यों लेकिन अमृता आकाश से दूर नही जाना चाहती थी , आकाश का यूं ऐसा करीब आना उसके दिल को सुकून दे रहा था , ऐसा क्यों हो रहा था ये अमृता के समझ के बाहर था । तभी आकाश अमृता के और करीब आता है और उसके कान की तरफ अपने ओठ करके बोलता है , , , वैसे तुम्हे एक बात बता दूं , अभी घर में हम कितने है ? आकाश ने सवाल करते हुए कहा । हम दोनों बस और कोई नहीं है , , अमृता ने नजरें झुकाकर जवाब दिया । नहीं! और भी कोई है इस घर में, आकाश ने अमृता को डराते हुए कहा । और . . . और कौन है ? अमृता ने आकाश से पूछा । हमारे घर में ना एक आत्मा है । क्या ! ! अमृता ने चिल्लाते हुए कहा । अरे चिलाओ मत अगर उस आत्मा की नींद खराब की ना तुमने, तो वो रात को तुम्हारे कमरे आके तुम्हारी नींद खराब करेगी, आकाश ने एक हाथ अमृता की मुंह पर रखते हुए कहा । तुम ये सच बोल रहे हो ? तभी मैं सोचू की कल रात मैं अपने रूम में कैसी चली गई ! और तो और जो नॉवेल में कल रात पढ़ रही थी वो भी वहा नहीं है , , , अमृता ने आकाश की आंखो में देखते हुए कहा । अरे तुम धीरे बोलो आत्मा को पसंद नहीं की कोई उसके बारे में बात करे , , , इसलिए तो मैं तुमको साइड में लेकर जे सब बता रहा हूं ना , , , आकाश ने अमृता से कहा । और तभी सभी लाइट्स ऑफ हो गई , अमृता जोरों से चिल्लाई और वहा से भाग पाती उसके पहले ही आकाश ने उसका रास्ता रोका और हसने लगा । अमृता आय एम सॉरी , पर में मजाक कर रहा था , आकाश की ये बात सुनकर अमृता ने आकाश को धक्का मरा और रोते हुए कहा , तुम्हे क्या मजाक लगता है ! मजाक की भी हद होती है , , , ये बोलकर अमृता रोने लगी और रोते रोते अपने रूम में चली गई । आकाश को अभी कुछ देर पहले क्या हुआ था वो समझ ही नहीं आ रहा था । ओ नो , मैने कुछ ज्यादा ही मजाक किया शायद , , , में भी पागल हूं , मुझे ऐसा मजाक नहीं करना चाहिए था उसके साथ , , , मैने उसको रुला दिया , जिसके आंखो में मे कभी भी आसूं नही देखना चाहता, आज उसके आंखों में जो आसू आए है उसकी वजह मैं हूं ! आकाश ने ना जाने अपने आपसे क्या क्या कह डाला । वो दौड़ कर अमृता के रूम की और गया । दरवाजा अंदर से लॉक था । आकाश ने दरवाजा खटखटाया अमृता , अमृता प्लीज दरवाजा खोलो , मुझे बस एक बार तुमसे बात करने दो , मुझे मौका तो दो अपनी बात रखने का , प्लीज खोलो ना दरवाजा । आकाश ने शायद इतनी रिक्वेस्ट पहले कभी भी किसी से नही की होगी । अब जब तक तुम दरवाजा नही खोलोगी में यह ऐसे ही खड़ा रहूंगा , अमृता आय प्रोमिस आज के बाद तुम्हारे आसूं की वजह मैं नहीं बनूंगा ! आकाश के आवाज मैं उदासी साफ झलक रही थी । अमृता ने कुछ इस तरह से दरवाजा अनलॉक किया की आकाश को इस बात का पता न चले की अंदर से दरवाजा खुला हुआ है । तभी आकाश की आवाज आई , अब बस मैं दरवाजा तोड़ दूंगा अमृता आय एम टेलिंग यू देख लेना फिर आकाश ने अमृता से कहा । अरे एटलेस्ट कुछ जवाब तो दो यार , देखो मैं सच में दरवाजा तोड़ कर अंदर आ जाऊंगा आकाश ने फिर से एक बार अमृता से कहा । आकाश कुछ कदम पीछे गया और फिर दौड़ते हुए दरवाजे की और बढ़ा , दरवाजा अंदर से खुला होने के कारण वो सीधे अमृता की बेड पर जाकर गिर गया । अमृता साइड टेबल पर बैठी हुई ये सारा सीन देख कर अपनी हसी को रोक रही थी । आकाश बेड पर से उठा और अमृता के सामने नीचे जमीन पर अपने घुटने के बल बैठ गया , आकाश ने अपने कान पकड़े और नजर झुकाते हुए कहा , सॉरी प्लीज मुझे माफ करदो, आगे से पक्का ऐसा मजाक नहीं करूंगा । अमृता को अब और हसी कंट्रोल नहीं हो रही थी , वो जोर जोर से हंसी लगी और इन सब के बीच आकाश के फेस पर एक बड़ा सा क्वेश्चन मार्क था । तुम्हे क्या लगता है की मजाक सिर्फ तुम ही कर सकते हो ? अमृता ने अपनी हसी कंट्रोल करते हुए आकाश से कहा । आकाश ने कहा मतलब ? ? मतलब आकाश जी मुझे पता है की आप मजाक कर रहे थे , कितनी मेहनत ली आपने मुझे डराने के लिए अगर मैं नहीं डरती तो आपको बुरा लग जाता ना ! इसलिए मैंने भी थोड़ी सी एक्टिंग कर ली , लेकिन हा मुझे सच में भूतों से डर लगता है , ये सच है, वो नीचे जो आसूं मैंने बहाए वो मगरमच्छ के नही थे , अमृता ने आकाश से कहा । अच्छा ,जैसी दिखती वो वैसी हो नहीं तुम , वेरी स्मार्ट हां , आकाश ने उठते हुए कहा । फ्रेंड्स ?? आकाश ने अपना हाथ आगे बढ़ाते हुए अमृता से कहा । लेकिन , , , मुझे लगा की हम ऑलरेडी फ्रेंड्स है !! अमृता ने कहा । हां , , , , , लेकिन ये हमारी दोस्ती की नई शुरुवात है ऐसा समझ लो आकाश ने भी कहा । और अमृता ने आकाश के साथ हैण्ड शेक किया। तुमने मजाक किया वो ठीक है लेकिन मैंने तुम्हे प्रोमिस सच्चा किया है , आकाश ने अमृता के आंखो मैं देखते हुए कहा । प्रोमिस ? कौनसा वादा ? अमृता ने पूछा । यही अमृता जी की आगे के बाद मेरे वजह से तुम्हारे आंखो मैं कभी भी आसू नही आयेंगे , , आकाश ने सीरियस हो कर अमृता से कहा ।

प्लीज कॉमेंट करके बताना जरूर ये चैप्टर कैसा था ! कीप रीडिंग 😇 थैंक यू फॉर योर सपोर्ट ☺️

रेट व् टिपण्णी करें

Bijal Patel

Bijal Patel 2 महीना पहले

Preeti G

Preeti G 3 महीना पहले

Harshali

Harshali मातृभारती सत्यापित 3 महीना पहले