ROYAL COLLEGE 1992 - 4

पिछले पार्ट में देखा की पूरी किताब पढ़ ली। हालाकि वरुण ओर आलिया दिल्ली चले गए थे।

अब दूसरे दिन सारे लोग यह बात से भी परेशान थे की क्या सच में आलिया ने कोई आत्मा देखी होगी उपर कोने में।

इसके लिए करण ने अपने खुद के पेरानॉर्मल एक्टिविटी के यंत्र निकाले और रख दिए।

अब रात का इंतजार था क्यूंकि रॉनी ओर रोनाल्ड को कॉलेज जाना था ओर यहां करण को रूम में यंत्र से पता करना था कि क्या आत्मा है इस रूम मै।

रात के 1:15 बजे

रॉनी:रोनाल्ड चल अब।

रोनाल्ड:-  करण तू संभाल लेगा ना यहां अकेले?

करण:- हा कोई दिक्कत नई है रिया ओर टीना है साथ में तुम जाओ ओर पक्की इंफॉर्मेशन ले कर आयो।

दोनों ऑफिस चले यहां करण ने अपना काम शुरू किया।

करण ने सब जगह नाइट कैमरा ओर एक ऐसी गुडिया यानी खिलौना रखा की उसको टच करो तोही वो छोटी बच्ची की तरह हस्ती है।

करण:- रिया ओर टीना रेडी हो तुम दोनों?
रिया:- हा।

करण ने पहले गुडिया को टच करके देखा। गुडिया हसी ओर करण ने स्टार्ट किया।

करण ने थोड़े भारी आवाज से बात करना स्टार्ट किया।

करण:- आप हो यहां पर? अगर हो तो हमे अहेसास दिलाइए इस गुडिया के जरिए।

हमारे सामने आने की कोशिश कीजिए।

अगर आपको कोई परेशानी हो रही है तो हमे बताइए।

करण ने धीरे धीरे पूछना शुरू तो किया था पर ना तो कोई चीज हील रही थी ना गुडिया ओर ना ऐसा कुछ लग रहा था कि कोई हो यहां पर।

करण:- हम आपकी आत्मा को शांति दिलाने का प्रयास करेंगे।
अगर आप हो तो सामने आयिए।

किसी चीज से हमे संकेत दीजिए।

उस शिमला कि अंधेरी रात के 2:30 बज गए थे पर करण को कुछ महसूस नई हुआ ।
आखिर करण ने गुडिया को ले लिया ओर लाइट चालू कर दी ।

रिया:- कुछ महसूस नई हुआ ना गुडिया से आवाज आई।

अब टीना ने कैमरा चेक करना स्टार्ट किया शायद कुछ मील जाए।

यहां रॉनी ओर रोनाल्ड दोनों ये ढूंढ रहे थे कि ओल्ड बैच के स्टूडेंट्स कि फाइल्स कहा पर होगी उनको भी यह ढूंढ़ते हुए 1 घंटा होने को आया था।

अभी तक इन दोनों को घुंगरू की आवाज भी नई अाई थी ।

रॉनी टॉर्च लेकर रूम के उपर देखता जा रहा था कि कोनसा रूम है ऐसा करने के दौरान रॉनी की टॉर्च बंध हो गई।

रोनाल्ड:- अरे टॉर्च क्यूं बंध की?

रॉनी:- अरे अपने आप बंध हो गई।जल्दी से मोबाइल की टॉर्च चालू कर।

रोनाल्ड:- अरे ये क्या हो रहा है मोबाइल चालू बंध हो रहा है ।

रॉनी:- अरे मुझे लगता है ये हमारी आखरी रात है।
रोनाल्ड:- चुप कर ऐसी बकवास बाते।

ठंडी ठंडी हवा  जोर जोर से चलने लगी।उपर से टॉर्च बंध दोनों डर तो गए थे पर ज्यादा तब डरे जब अचानक से माउथ ऑर्गन की एक भूतिया  ट्यून सुनाई दी।

ये ऐसी ट्यून थी कि कोई दर्द भारी आवाज में बजा रहा है ।

रॉनी ओर रोनाल्ड दोनों अचानक से डर गए ।
दोनों को ठंडी ठंडी हवा में भी पसीना निकल रहा था।

रॉनी:- अरे ये केसी ट्यून है ? बहुत डरावनी है। मुझे बहुत डर लग रहा है यार।

रोनाल्ड:- हां इसबार तो मुझे भी डर लग रहा है।

इतना बोलते ही उनके पीछे  दरवाजा जोर से  पछाड़ने कि आवाज अाई।

रॉनी: ओ भाई में बोलता हू निकल लेते है।

रोनाल्ड:- अरे फाइल तो मिलजाए एक बार।

दोनों काफी डरे हुए थे।

रोनाल्ड :-  चल जल्दी से आगे

रोनाल्ड ने केसे भी करके मोबाइल की टॉर्च चालू की।

दोनों को आगे बढ़े पर रॉनी थोड़ा ओर आगे चला गया उसको एक कमरा मिला जिसके बाहर कुछ नई लिखा था पर रॉनी ने खिड़की खोल कर देखा  तो अंदर अलमारियां थी ओर उसके अंदर बहोत सारी फाइल्स थी।

रॉनी:- चल भाई रूम मिल गया वॉच मेन आए उसके पहले अंदर चल।

दोनों अंदर चले गए ओर अलमारियां के दरवाजे पर कितने से कितने साल की फाइल्स है ये लिखा हुआ था।

रॉनी को एक अलमारी मिली जिसके उपर 1990 - 2000 का पेज लगा हुआ था

रॉनी:- रोनाल्ड आजा इसमें ढूंढते है।
रॉनी को फाइल मिल गई ।

फाइल खोलने के बाद पता चला कि बहुत सारे नाम थे अब इसमें दोनों को  दिव्या गुप्ता का नाम ढूंढ़ना था।

रोनाल्ड:- मिल गया नाम जल्दी से फोटो खींच लेता हूं।

रॉनी:- अरे पूरा पेज लेले ना।

दोनों बहस में बात कर रहे थे तभी अचानक मोबाइल बंध हो गया ओर पूरे रूम में अंधेरा ही अंधेरा।

रोनाल्ड:- मैने बोला फोटो ले लेता हूं।

रॉनी:- अब बाते मत कर पूरी फाइल ले ले।

दोनों ने फाइल ली ओर जैसे ही रूम के बाहर जाने लगे तभी    जोर से दरवाजे के बाहर से कोई हवा की रफ्तार से निकला।

मानो कोई आत्मा ही हो।

रोनाल्ड आगे देख कर बोल रहा था:- ओ भाई आत्मा लगी मुझे तो इतनी तेज कोन जाता है चल जल्दी से यहां जान को खतरा है।

इतना बोलने के बाद जब रोनाल्ड ने पीछे मुड़ कर देखा तो पीछे रॉनी नही था।

रोनाल्ड:- रॉनी ...रॉनी... कहा गया अब मज़ाक मत कर आजा बाहर जल्दी से डर लग रहा है मुझे वॉच मेन अा जाएगा।

उपर से पूरे रूम में अंधेरा था रोनाल्ड घबराकर रूम के बाहर अा गया ओर आसपास देख कर  रॉनी .. रॉनी..  धीरे धीरे चिल्ला रहा था ।

तुरंत थोड़ी देर बाद रॉनी कॉलेज की दीवार कूद कर आता दिखा।

रोनाल्ड चौंक गया कि ये यहां से केसे वो तुरंत दरवाजा बंध करके दौड़ता हुआ रॉनी के पास गया ।

रॉनी:- अरे कहा चला गया था आगे आगे मैने तुझे बोला रुक मेरे पेर में मोच आयी है जोर से।
में यहां केसे आया हूं मेही जानता हूं।मुझे लगा कि तू खड़ा है बाजू में जब मुंह उपर किया तो गायब हो गया तू।

मैने बहुत चिल्लाया पर तू आया ही नई वापिस।

रोनाल्ड की आंखे ओर कान फटे के फटे रह गए ओर मन हि मन  में घबराहट होने लगी पूरा शरीर पसीने से भीग गया ।
ओर पता चला कि उसके साथ जो रॉनी बन कर था वो कोई ओर  नई आत्मा ही थी।
अभी रॉनी आगे कुछ पूछता ओर रोनाल्ड बता पाता उसके पहले ही रोनाल्ड वहीं बेहोश हो गया ।

रॉनी:- ए रोनाल्ड क्या हुआ ? रोनाल्ड... रोनाल्ड..

रॉनी भी डर गया काफ़ी उठाने की कोशिश की पर नई उठा  पानी लाकर मुंह पर मारा तब जाकर उठा रोनाल्ड।

रॉनी:- अरे केसे बेहोश हो गया अचानक?

रोनाल्ड:- चल पहले यहां से  जल्दी बाद में बताऊंगा सब पहले होटल चल। ले ये फाइल पकड़ ओर चल जल्दी से ।

होटल आने के बाद रोनाल्ड तुरंत किसी से बात करे बिना बाथरूम में घुस गया ओर 2 घंटे बाद नहा कर निकला।

टीना:- अरे इसे क्या हुआ है? रॉनी.. वो कुछ नई बता रहा ना तू बता रहा है।

रॉनी:- अरे ये सब इतनी जल्दी हुआ कुछ पता नई चला।

रोनाल्ड नहा कर बाहर आया पर अब भी उसके मुंह पर डर दिख रहा था।

टीना:- अब बता क्या हुआ चिंता हो रही है हमे।

रोनाल्ड ने सब कुछ बता दिया कि क्या हुआ।

रॉनी,टीना,रिया ओर करण चौंक गए।

टीना :- तुझे कुछ हुआ तो नई है ना ओर अब केसा लग रहा है । अब कल सुबह हम दिल्ली चले जाते है।

रिया:- हा अब बहुत हुआ ये सब हमारा काम नई है।

करण ओर रॉनी :- हा रोनाल्ड हमारी जान जाए ऐसा काम हमे नई करना।

वो तो अच्छा हुआ की तुझे कुछ हुआ नई।

रोनाल्ड जोर से चिल्लाया

रोनाल्ड:- चू उ उ ... प क्या बोले जा रहे हो कबसे । शांति रखो ओर दिल्ली की बात मत करो अभि।

वो आत्मा ने मुझे कुछ किया तो नई ना। हा में डर गया ये सच है पर वो मुझे कुछ कहेना चा रही है।

इसलिए उसने खुद रॉनी बनकर मुझे फाइल तक ले गई।अब कुछ भी हो जाए में यहां से नई जाने वाला ।

तुम सबको जाना है तो जाओ।

सब ने रोनाल्ड को शांत किया ओर सब ने आगे की प्लानिंग शुरू की।

रॉनी:- अरे करण मिला कुछ इस रूम में?
करण:- नई हमने बहुत प्रयास किया पर कुछ हाथ नई लगा।

टीना:- ओर मैने कैमेरा भी चेक किया पर उसमे कुछ भी नई मिला।

शायद ये करण ओर आलिया का वहम होगा।

करण:- हा मुझे भी ऐसा लग रहा है।

रोनाल्ड :- अब थोड़ा आराम करके
फिर  ये फाइल ओपन करते ओर कुछ देखते है कोन है दिव्या गुप्ता?

STORY CONTINUE...

***

रेट व् टिपण्णी करें

Verified icon

Saras 5 दिन पहले

o

Verified icon

Badawat Prakash Chand 3 सप्ताह पहले

Verified icon

Vivek 3 सप्ताह पहले

Verified icon

Mital 1 महीना पहले

Verified icon

Raviraj sodha 1 महीना पहले

शेयर करें