रचनाकार का नाम : Neelima sharma Nivia
औसत रेटिंग: (34)
आइना सच नहीं बोलता - 12

रेट व् टिपण्णी करें

nihi honey 2 महीना पहले

mariyam Kacheriwala 3 महीना पहले

Priyanka Saket 3 महीना पहले

S Nagpal 6 महीना पहले

Manish Saharan 11 महीना पहले

Deepa Chauhan 2 साल पहले

Jai Kumaar 3 साल पहले

Meenu 3 साल पहले

Meena sharma 3 साल पहले

chaaru 3 साल पहले

Renuka 3 साल पहले

Asha Pandey 3 साल पहले

Anju Sharma 3 साल पहले

बहुत अच्छी कड़ी, बधाई प्रोमिला जी

Himani Bansal 3 साल पहले

Meenu Hora 3 साल पहले

Rashmi Tarika 3 साल पहले

मन को झकझोरते हुए प्रवाह मय कड़ी

Priyanka Pandey 3 साल पहले

बढ़िया प्रवाहमय कड़ी ☺

Shakuntala Vyas 3 साल पहले

Neelima Sharma 3 साल पहले

Shraddha Thawait 3 साल पहले

बहुत अच्छी तरह से लिझी कड़ी। एक साँस में पढ़ गई। भावों से भरी प्रवाह मयी कड़ी।

Shobha Rastogi 3 साल पहले

अकेले पुरुष और अकेले स्त्री के दर्द की छिटकन दूर तक गई हैं

Suman Taneja 3 साल पहले

Ek vivahita estri ki komal bhavnaun ka sundar chitran Bahut khub

Khushi Saifi 3 साल पहले

Daksha Mehta 3 साल पहले

Promilla Qazi 3 साल पहले

Kirti patil 3 साल पहले

Nivarozin 3 साल पहले

good

Upasna Siag 3 साल पहले

वाह....!

Anita Ojha 3 साल पहले

pramila ji aap ko badhai ye kadi achhi lagi mujhe

Aishani Gupta 3 साल पहले

very goooood

Kavita Verma 3 साल पहले

बढ़िया कड़ी प्रोमिला जी

Neelima sharma Nivia 3 साल पहले

अच्छा लिखा आपने प्रोमिला

Aparna Anekvarna 3 साल पहले

Deboshree Majumdar 3 साल पहले