रचनाकार का नाम : Neelima sharma Nivia
औसत रेटिंग: (37)
आइना सच नही बोलता - 8

रेट व् टिपण्णी करें

nihi honey 2 महीना पहले

mariyam Kacheriwala 3 महीना पहले

Priyanka Saket 3 महीना पहले

S Nagpal 6 महीना पहले

Monica Sharma 7 महीना पहले

Manish Saharan 11 महीना पहले

Akanksha 3 साल पहले

Meenu 3 साल पहले

Shashi Sharma 3 साल पहले

Promilla Qazi 3 साल पहले

bohat badiya, Sanjana (y)

Shakuntala Vyas 3 साल पहले

jasmin khanapure 3 साल पहले

Tara 3 साल पहले

Jyoti Sompura 3 साल पहले

Jayti menaria 3 साल पहले

Madhwi Tiwari 3 साल पहले

स्पष्ट लेखनी।

Nivarozin 3 साल पहले

वाह

Kirti patil 3 साल पहले

Alka Maheshwari 3 साल पहले

Vandana Gupta 3 साल पहले

Shraddha Thawait 3 साल पहले

बहुत ही अच्छे से नंदिनी के मनोभावों को उकेरती कथा। खुद के विकास की छटपटाहट की कथा। बहुत बहुत बधाई संजना इस सुन्दर कथा हेतु।

Himani Bansal 3 साल पहले

Kavita Verma 3 साल पहले

अच्छी कड़ी संजना जी बधाई

Asha Pandey 3 साल पहले

Priyanka Pandey 3 साल पहले

UrmiyashPapnoi 3 साल पहले

Anju Sharma 3 साल पहले

वाह, बहुत रोचक कड़ी। बधाई संजना ...

Shobha Rastogi 3 साल पहले

पुरुष के दम्भ औए स्त्री के नेह का बारीक वर्णन । बधाई

Upasna Siag 3 साल पहले

बहुत सुंदर

Rashmi Tarika 3 साल पहले

नंदिनी की ज़िंदगी के साथ जीते हुए आगे बढ़ते हुए कड़ी दर कड़ी पढ़ने का सुखद एहसास..

संजना तिवारी 3 साल पहले

बहुत अच्छी प्रभावपूर्ण कड़ी

Abhishek Tiwari 3 साल पहले

Writing is toughest form of all arts and this writer seems to have mastered it.

Deboshree Majumdar 3 साल पहले

Neelima sharma Nivia 3 साल पहले

Suman Taneja 3 साल पहले

Read in one breath Very interesting

Aparna Anekvarna 3 साल पहले

Neelima Sharma 3 साल पहले