आज शाम है बहुत उदास Anju Sharma द्वारा लघुकथा में हिंदी पीडीएफ

आज शाम है बहुत उदास

Anju Sharma मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी लघुकथा

लोहामंडी..… कृषि कुंज...… इंदरपुरी...… टोडापुर .....ठक ठक ठक.........खटारा ब्लू लाइन के कंडक्टर ने खिड़की से एक हाथ बाहर निकाल बस के टीन को पीटते हुये ज़ोर से गला फाड़कर आवाज़ लगाई, मानो सवारियों के घर-दफ्तरों तक से उन्हे खींच ...और पढ़े