हिंदी कविता, सुविचार और ब्लॉग, हिंदी सोशल नेटवर्क, चेट करें, शेयर करे

कुछ रहम कर ऐ जिन्दगी,
जरा सवर जाने दे।

तेरा अगला जख्म भी सह लेंगे,
पहले वाला तो भर जाने दे.. ।

Shweta

Shweta Parmar 10 महीना पहले

वहाँ दिल के जख्मों की दवा नहीं मिलती...

Kalpesh Joshi 10 महीना पहले

મેડિકલ સ્ટોર ???

Shweta Parmar 10 महीना पहले

आपको अगर पता हो ऐसे किसी बाजार के बारे तो पता दे दो....

Kalpesh Joshi 10 महीना पहले

इतने ज़ख्म खाते हो तो मलम की बाजार ढूंढ़ लो ,??

Devesh Sony 10 महीना पहले

Ohh... જોરદાર... ધારદાર.... ???

आगे देखें   हिंदी ब्लॉग स्टेटस | हिंदी चुटकुले