Dont message

मिल जाओ कभी इत्तफाक से, तो जीने की वजह मिल जायेगी ।
न मिलोगे तौ भी उम्र तो हर पल तेरी याद में कट ही जायेगी ।।

और पढ़े

क्या खूब खुदाने स्त्री बनाइ है,
खुद ननंद हो तो मान माँगती है और अपनी ननंद का अपमान करती है ।

सोचती हूं छोड दूं तुझे याद करना पर तू तो मेरी सांसो के साथ दिल में धडकता हे कैसे छोडुं ?

बिन माँगे मिले हो जिनको उनकी शुक्रगुजार हूं मैं, कुछ कमी तो रह गइ उनके प्यारमें जो कभी कभी तुम्हे याद आती है मेरी ।

और पढ़े