Nice to have a app like this "matrubharati" enjoying reading and meeting people who have same passion about reading.. about my self basically from rajkot (gujrat) and a business person.. like to makeing good friends

यूँ फिर एक उम्मीद पाली है हमने....
तेरे पते पे फिर एक चिठ्ठी डाली है हमने...!!

बेहद करीब है वो शख्स ... आज मेरे दिल के ...
जिसने खामोशी का .... सहारा लेकर दूरियों को अंजाम दिया ..

वो कहने लगी..
सुना है शायरी करते हो..
उन्हें कैसे बतलाउं..
मोहब्बत भी करता हूँ
🌹🌹🌹

प्यार की अनदेखी सूरत हो तुम
जिंदगी की सबसे बड़ी ज़रूरत हो तुम

खुबसूरत तो
गुलाब के फूल भी होते है
फुलो से भी खुबसूरत हो तुम...

और पढ़े

पढ़ लीजिये निगाहो की किताब.....!!
कब तक मुझे तुम
लब्जो से तरासते रहोगे..!!

खुद से भी रूबरू कभी करा दे मेरे मालिक मुझको,

कब तक यूँ परायों में अपने होने के निशाँ ढूंढता फिरूँ !!

बेपनाह मोहब्बत की........... सजा पाए बैठे है ,

हासिल ना हुआ कुछ भी और सबकुछ लुटाये बैठे है...

क्या वक़्त निकाला है रंजिश का भी ज़ालिम ने
वो ख़ूब सँवरती है जब जब मुझ से बिगड़ती है

अजीब है उनकी महोब्बत,
अजीब है उनकी आदत।
न याद करने का हक़ देते है,
न भूल जाने की इजाज़त।।

कभी पत्थरों पर फूल खिल जाते हैं,




कभी अजनबी अपने बन जाते हैं!




कभी लाशों को कफ़न तक नहीं मिलता,




कभी लाशों पर ताजमहल बन जाते हैं!!

और पढ़े